Essay on Village Life in Hindi – जानिए कैसी होती है गांवो की जिन्दगी तथा उसका महत्व – गांव पर निबंध

गांव का जीवन बहुत ही सुंदर और शानदार रहता है। क्योकि गांव की हवा, वातावरण, शुद्ध पानी, शुद्ध जीवन और चारो तरफ हरियाली मन मोह लेती है। गांव मे रहने वाले लोग अक्सर स्वस्थ्य और निरोगी रहते है। बस यहा एक ही चीज़ की दिक्कत हमेशा महसूस होती रहती है। और वो वह है आधुनिक सुख सुविधाये जो कि शहर की अपेक्षा यहा बिल्कुल भी नही होती है। नवीन तकनीक और उनका उदय इन सब चीज़ो से गांव के लोग वंचित रह जाते है। परंतु कहते है ना कि कुछ खोते है तो खुछ पाते भी है। गांव का जन जीवन भी हमे मोहित करता है।

इसलिए ग्रामीण जीवन, रहन – सहन और उनका क्या महत्व है इसके बारे मे सभी को जानकारी होनी चाहिए और मै सभी लोगो से निवेदन भी करुंगा कि कही भी रहे कैसे भी रहे परंतु अपनो बच्चो को गांव के बारे मे तथा Essay on Village Life in Hindi, village essay in Hindi, Villages Life in Hindi मे जरूर बताये। जिससे हमारी आने वाली पीढी भी जानकारी वंचित ना रहे।

अक्सर सभी बच्चो की परिक्षाओ मे गांव से सम्बंधित जैसे Gaon ka Jeevan Par Nibandh, Gaon Par Nibandh in Hindi, Essay on Village 100 Words, Essay on Village In Hindi 2 Lines आदि करके पूछे जाते है।

गांव पर 2 लाइन में निबंध

हमारा गांव सबसे प्यारा है। यहा का रहन और सहन बहुत ही सुंदर है। वातावरण और खेत खलिहान मनमोहक है। गाव मे लोग एक दूसरे के साथ प्रेम और सौहार्द के साथ जीवन जीते है। गांव ऐसे जगह है जो शहर की अपेक्षा प्रदूषण मुक्त है और यहा की हवाये बहुत ही ठंडी होती है।

गांव पर 100 शब्दों में निबंध (Essay on Village 100 Words in Hindi)

गांव एक सुंदर जगह है। जहा हम चैन और सकून से अपना जीवन जी सकते है। मेरा गाव मेरा गौरव है यहा सब भाईचारे से रहते है। एक दूसरे के दुख सुख मे सदैव लोग अपनी सहभागिता देते है। हमारे गाव के चारो तरफ बहुत सुंदर और शानदार नज़ारे है जिसको देखकर मन प्रसन्न हो जाता है। हमारे गांव मे हरी भरी हरियाली खेत पात और पक्षियो के खिलना बहुत मन को भाता है। गांव के लोग एक दूसरे के साथ अपना समय बिताते है। तथा साथ मे खेल भी खेलते है। हमारे गांव मे शिक्षा और स्वास्थ्य सुविधाएँ भी उपलब्ध हैं। हमारे गांव मे लोग एकता के साथ रहते है। हमारे गांव मे सभी धर्म जाति के लोग आपस मे प्रेम भाव से रहते है। गाव मे अनेक उत्सव भी होते रहते है। हमारे गांव छोटे पर्व आते रहते है और उन पर्वो पर हमारे गांव मे मेले भी आयोजित होते रहते है। गांव का जीवन बहुत ही सुखद अनुभव की ओर ले जाता है।

See also  Holi Essay in Hindi - रंगों का त्‍योहार होली पर हिन्दी मे निबंध

गांव पर 200 शब्दों में निबंध

मेरा गांव उत्तर प्रदेश के एक छोटे से क्षेत्र मे बसा हुवा है। हमारे गाव के लोग भीड-भाड और हलचल से दूर रहते है वो जैसे ही साधारण होते है वैसे ही अपना जीवन भी साधारण तरीके से जीते है। गाव के लोग शहर की तुलना मे जल्दी सो जाते है। और सुबह जल्दी उठकर अपने काम मे लग जाते है। खेत मे जाकर अपनी खेती पाती को देखना, पशु पक्षियो के लिए चारे एवम खाने की व्यवश्था करना आदि मे वो लग जाते है। जब इस काम को पूरा कर लेते है तब उसके बाद स्नान आदि से निवृत्त होकर भोजन आदि करके लोगो के साथ बैठकर मस्तिया बाते आदि करने लगते है।

गांव का जीवन मिला जुला होता है। शुद्ध वातावरण रहता है। हमारे गांव मे अच्छी रोड है, बहुत सुंदर विद्यालय है। मेरे गांव मे डाक सेवा प्रदाता डाकघर भी है। लोग आसानी से अपने संदेश को एज्क पर्चे के माध्यम से कही भी भेज सकते है। चिकित्सा सुविधा भी हमारे गाव मे है। एक छोटा सा अस्पताल भी है।

मेरे गांव मे एक बैंक भी है कुल मिलाकर हमारा गांव बहुत सुंदर है। मेरे गांव मे लगभग तरह के काम करने वाले लोग आपको मिलेंगे जो अच्छे पोस्ट पर अपना समय दे रहे है।

गांव पर 500 शब्दों में निबंध (500 Words Essay on Village)

प्रस्तावना

मेरा गांव सबसे अच्छा और सबसे प्यारा है। मेरे गांव मे बहुत कम लोग रहते है लेकिन जितने लोग है। बहुत प्यारे है मेरा गांव हमारे देश के नेपाल सीमा के नज़्दीक वाले जिले मे बसा एक सुंदर गाव है। यहा पर रहने वाले लोगो मे भाइचारा है तथा प्रेम और अपनत्व की भावना को उजागर करता एक जीता जागता उदाहरण है। मेरा गाव मेरी शान है क्योकि यही मेरा जन्मस्थान है। मै कही भी रहू पर मेरी आत्मा मेरे गाव मे बसी है। वास्तिक जीवन का आनंद हमारे गाव मे ही है यहा की सुंदरता और रमणीकता मन को भावुक करती है।

See also  My Father Essay in Hindi - पिता पर निबंध

गांव का जीवन

गांव का जीवन बहुत ही आनंदित होता है। गांव मे लोग अक्सर अपने काम मे लगे रहते है। गांव का वातावरण, हवा और हरियाली बहुत शुद्ध होती है। पेड – पौधो, नदी और पहाडो खेत खलियान और उसके आसपास की हरियाली गाव की शोभा को अद्वितीय बनाती है। खेतो मे काम, पशुपालन, मेहनत और दूसरे के यहा मजदूरी के काम मे लोग लगे रहते है। गाव के सभी लोग लगभग एक दूसरे के साथ प्रेम और भावनात्मक जुडाव रहते है। एक दूसरे के काम को करना एक दूजे की मदद के लिए आगे आना उनकी कर्तव्यनिष्ठा का एक अनुपम उदाहरण है। एक दूसरे के सहयोग मे अपने जीवन को व्यतीत कर देते है। गाव के लोगो से हमे शिक्षा लेनी चाहिए कि कैसे एक दूसरे का सहयोग करना चाहिए।

गांव के लोग केवल खाने – पीने और सोने के लिए घर आते है बाकी समय वह खेत की देखभाल मे ही लगे रहते है। यहा का परम्परागत व्यापार भी खेती ही है लोग सदियो से यही करते चले आ रहे है। और उसी मे अपना तन मन और धन पूर्णरूप से लगा रहे है।

गांव के लोग अपने बच्चो के शिक्षा के प्रति बहुत सम्वेदनशील रहते है। उनकी कोशिश यही रहती है कि उनके बच्चे उनकी तरह आगे चल कर ना बने बल्कि एक योग्य इंसान बने। गाव के लोग शहर वालो की तुलना मे निरोगी भी रहते है क्योकि वो मेहनत भी बहुत करते है।

गांव का महत्व

गांव का महत्व हर प्रकार से सराहनीये है। क्योकि कोई भी सामाजिक, आर्थिक और धार्मिक आयोजन मे गाव का योगदान अतुलनीय होता है। गाव मे रोजगार के साधन तो नही है रोजगार दाता तो नही है। पर अन्नदाता जरूर है। बिना अन्न के जीवन बेकार और अन्न का उत्पादन तो ग्रामीण क्षेत्रो मे ही सम्भव है। क्योकि नित्यप्रति उपयोग होनी वाली खाने पीने की सारी चीज़े का उत्पादन गाव मे ही होता है किसान ही इसका निर्माणदाता है।

See also  Essay on Navratri in Hindi | नवरात्रि पर निबंध हिंदी में - नवरात्रि पर निबंध लिखने के तरीके

हमने सोचा यहां कुछ बिंदु दर्शाते चले जिसके माध्यम से हमे गांव का महत्व और उसकी उपयोगिता कारण समझ मे आये –

1 – समाजिक एकता का प्रतीक
2 – हस्त कलाकृति को बढाना
3 – कृषि का केंद्र
4 – संस्कृति का संरक्षण
5 – अन्न उत्पादन
6 – सब्ज़ी उत्पादन
7 – पशुधन पालन और दुग्ध उत्पादन
8 – गांव भारत के अर्थव्यवस्था का केंद्र बिंदु है
9 – प्रेम और सौहार्द का प्रतीक
10 – परंपराओं और विरासत का भंडार

निष्कर्ष

ग्रामीण व्यक्ति अक्सर जीवन जीने के लिए आर्थिक स्थिति मे सुधार हेतु शहर की तरफ पलायन करते है। लेकिन शहर की अपेक्षा मे गांव का जीवन बहुत सुखद और सुंदर होता है ग्रामीण जीवन आपको अच्छी विचार, उत्तम पर्यावरण और तनावरहित जीवन जीने का तरीका सिखाता है।