Self Respect Quotes in Hindi – स्वाभिमान पर सुविचार और शायरी

रिश्ता कैसा भी हो उसमे प्यार, समर्पण और आत्म सम्मान का होना बहुत जरूरी होता है। रिश्ते तो ईश्वर बनाते है पर संवारने और सम्भालने का काम इंसान का ही होता है। जीवन मे अगर आप अनुभव करेंगे तो बहुत से ऐसे लोग है जो रिश्तो के महत्व को नही समझते और रिश्तो का सम्मान भी नही करते है। लेकिन हर रिश्ते का सम्मान करना हमारा धर्म है और कर्म भी।

इसी के कारण आज हम कुछ ऐसे ही Self Respect Quotes in Hindi और Self Respect Shayari in Hindi मे लेकर आये है। जो आपके लिए बहुत सहायक होंगे और अपने रिश्तो मे सम्मान के पल कैसे रखने है? इसकी भी जानकारी आप सेल्फ रेस्पेक्ट कोट्स के माध्यम से मिलेगी।

Self Respect Quotes in Hindi

“आत्मसम्मान से बडा कोई सम्मान नही”

“दूसरे के सम्मान से जो खुशी हासिल होगी
उसका एक अलग ही आनंद होता है”

“आपने आत्मसम्मान से बडा कोई कार्य नही
सदैव इसकी रक्षा करो”

“जहां बात सम्मान की आ जाये
वहा कभी झुकना नही चाहिए
क्योकि आत्मसम्मान ही तो है
जो हमे गर्व मे रखता है”

“जब बात अपने परिवार के स्वाभिमान की हो
तो वहा संसार की कोई भी चीज़ मायने नही रखती”

“सबसे पहले तो आप अपनी जरुरत के हिसाब से
अपने को मज़बूत करो, क्योकि पहली जरुरत तो
आप ही हो”

“हमेशा सम्मान करने वाली चीज़ से ही समझौता करो”

“आप खुद के लिए एक शिखर हो
हमेशा अपने को सम्भाल के रखो”

“जिन्दगी जीने के तरीके और रास्ते अपने हिसाब के होने चाहिए
क्योकि इसमे मज़ा भी है और चैन भी है”

See also  Help Quotes  - जरुरतमंद लोगो की सहायता पर सुंदर विचार

“अपना अस्तित्व अपना है इसके संचालक भी आप स्वयम हो”
“जो किरदार मिला है उसका पालन करो
उसके लिए खुद को झुकाने की जरुरत नही”

“आत्म सम्मान से जीना है
तो सोच और तरीके बदलो”

“आप अपने मुल्य के खुद मालिक है
जैसे खर्च करना है खर्च करे
उसमे दूसरे से क्या पूछना”

“इज़्ज़त से कमाई रोटी हमेशा सम्मान देती है”

“हमेशा दूसरे को सम्मान देना सीखो
जीवन खुशहाल रहेगा”

“इस जीवन रूपी संघर्ष मे धैर्य
ही हमारा अश्त्र है”

आपका आत्मसम्मान सदैब हमारा
धर्म रहेगा इसकी रक्षा हमारा कर्म रहेगा”

“आत्मसम्मान के लिए सर भी कट जाये
तो मंजूर है पर विवशता नही”

“कभी – कभी रिश्ते के सम्मान के लिए
हमे अपमानित भी होना पड जाये तो गम नही”

“अगर खुद की बढानी है इज़्ज़त
तो मत करो दूसरे को बेइज़्ज़त”

जाहे आप का सम्मान ना हो
वो जगह आपके लिए उचित नही”

“किसी का अपमान करके आप कभी भी
खुद का सम्मान नही बना सकते”

“किसी ने सच ही कहा है “एक हाथ सम्मान दो दूसरे हाथ सम्मान लो”

“अपने लिए समय जरूर निकाले
क्योकि सबसे पहले आपको भी
समय की जरुरत है”

“आत्मसम्मान से भरा हुआ व्यक्ति
हर हालात से मुकाबला कर सकता है”

Self Respect Shayari Hindi

“अपने स्वाभिमान की रक्षा से प्रमुख जीवन मे और कोई कार्य नही”

“जब सम्मान की बात आये
तो सब कुछ जायज़ है”

“ज्ञान उनके पास कभी नही जाता
जो इसका सम्मान नही करते”

“जब हारा तो ऐसे क्या पायेगा
जब भी पायेगा तो सम्मान के दम पर पायेगा”

See also  Mahadev Quotes Hindi - महादेव के सुंदर कोट्स

“इंसान के चेहरे पर नही लिखा होता है
कि आत्मसम्मान कैसे करना है
वो तो दिल का निर्णय है
जब भी करना है तो सबका करना है”

“सम्मान के साथ जीवन जियोगे तो सुख मिलेगा
नही तो ताने के सिवा कुछ ना मिलेगा”

“ये दुनिया भी उसी का सम्मान करती है
जो अपना सम्मान खुद करना जानते है”

“हर कोई एक सितारा है और चमकने के अधिकार का हकदार है।” – मर्लिन मुनरो

“अनादर किसी का भी हो बर्दाश्त योग्य नही” – शिप्रा गौर

“अच्छा खाना आत्म-सम्मान का एक रूप है।” – कोलीन क्विगले

“आप स्वयं, पूरे ब्रह्मांड में जितने भी हैं,
आपके प्यार और स्नेह के पात्र हैं।” – भगवान बुद्ध

आत्मसम्मान पर बहुत ही अनमोल और सुंदर सुविचार

“उसका सम्मान कभी भी मत करो
जो तुम्हे अपमानित करने की कोशिश
करता हो”

“जीवन मे कभी भी किसी के सम्मान
को ठेस मत देना, कयोकि ऐसा करना
तुम्हारे सम्मान को खत्म करता है”
“सम्मान से जिया गया जीवन
हमेशा खुशी प्रदान करता है”

“किसी की ताक़त बनो उसके सम्मान की रक्षा मे तन. मन, धन
अर्पण करो यही नीति है और यही तुम्हारा कर्म”

“आत्म सम्मान वो रास्ता है जो आपको कही
भी पहुंचा सकता है”

“आत्म सम्मान देना भी एक प्रकार का धनार्जन है
वो तुम्हारे साथ कर्म की भाति लगा रहेगा”

“सम्मान करने से जीवन मे चैन की अनुभूति होती है”

“सम्मान एक ज्ञान है जो दूसरो को देने से बढता है”

“स्वाभिमान एक आंतरिक संतुष्टि है, न कि इसे
बाहरी स्रोतों से प्राप्त करने की संपूर्ण खोज। – डेविड बारबोर

See also  Good Morning Quotes and Wishes Hindi

“आत्म सम्मान चाहे खुद का हो या दूसरे का
करना तो सबको चाहिए”

“कभी भी दूसरे की नज़र मे उठने के लिए
अपने सम्मान का सौदा मत करना”

“इज़्ज़त, तारीफ और सम्मान मांगने से नही
बल्कि बनाने से बनती है”