Mother’s Day Essay in Hindi – मदर्स डे पर निबंध

Mother’s Day Essay in Hindi: मदर्स डे का महत्व हमारे जीवन मे बहुत है। यह पर्व हर व्यक्ति के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण होता है। मां के स्थान की पूर्ति जीवन मे कोई पूरी नही कर सकता है, भगवान के द्वारा दिया गया सबसे अमूल्य रिश्ता है। एक मां ही होती है जो एक शिक्षक के रूप, एक मित्र के रूप मे तथा एक भाई के रूप सारे रिश्ते पूरी लगन और ईमानदारी के साथ निर्वाह करती है। आज हम आपलोगो को Mother’s Day Par Nibandh Hindi Mai मे कैसे लिखना है? और क्या लिखना है? इसके बारे मे मै पूरी तरह आप लोगो को आसान तरीके से बताता हू।

Mother’s Day Par Nibandh Hindi Mein (Essay on Mother’s Day in Hindi)

एक ऐसा रिश्ता जिसके बारे मे ज्यादा कुछ कहने और सोचने की जरुरत नही होती है। एक मां अपने बच्चे का ही नही अपितु हर रिश्ते का ख्याल पूरे ईमानदारी से रखती है। मां वो सहारा है जिसकी आवश्यकता हमे पैदा होने से लेकर मरने तक होती है। मां अपने बच्चे को नव महीने तक अपने पेट मे पालती है इस दौरान वो खुद भी बहुत दुख का सामना करती है। पर अपने बच्चे की सदैव रक्षा करती है। ऐसी देवी को हम कोटि – कोटि प्रणाम करे तो भी कम है। मां अपने बच्चो का उचित मार्गदर्शन करती है, तथा उन्हे सही राश्ते पर जाने की हमेशा प्रेरणा देती है। मां हमारी हर प्रकार से बहुत ध्यान रखती है। माता की ममता हमेशा अपने बच्चो के उपर बनी रहती है, मां अपने बच्चो के लिए संसार की किसी भी समस्या से सामना करने के लिए तैयार रहती है। मां हमेशा एक कवच की तरह होती है जो अपने बच्चो की तरफ आने वाले सभी संकट को रोक लेती है। मदर्स डे सबसे खास दिन होता है। मातृ दिवस प्रत्येक वर्ष मई महीने के दूसरे रविवार को मनाया जाता है।

See also  Essay on Navratri in Hindi | नवरात्रि पर निबंध हिंदी में - नवरात्रि पर निबंध लिखने के तरीके

मातृ दिवस क्या है?

मां के प्रति प्यार, सम्मान, लगाव और आभार को दिखाने का यह एक विशेष दिन होता है। हमने अक्सर देखा है और महसूस भी किया है कि व्यक्ति को सुख हो या दुख हर समय अपने मां की याद जरूर आती है। वैसे ज्यादतर तो दुख मे इंसान अपनी मां को याद करता है। मदर्स डे एक विशेष पर्व होता है भारत ही नही अपितु पूरे संसार मे इसको बडी प्रेम पूर्वक लोग मनाते है।

मदर्स डे का महत्व

मदर्स डे का महत्व हमारे जीवन मे बहुत होता है। क्योकि मां अपने बच्चो से बिना किसी लाभ के बहुत सारा प्यार करती है। माता अपने बच्चो के हर प्रकार के सुख व दुख की घडी मे चट्टान की भाति खडी रहती है। मां के जैसा इस दुनिया मे कोई रिस्ता नही, हमारी भी जिम्मेदारी है कि हमेशा मां की भावनाओ की कद्र करे। मां दिवस इसलिए आयोजित किया जाता है ताकि मां के महत्व और उनके समर्पण के हम समझे और हम अपनी मां को यह बता सके कि हम उनसे कितना प्यार और कितना सम्मान करते है। वैसे भी महत्व तो हर चीज़ का होता है परंतु उसके महत्व समझना और लोगो को समझाना यही हमारी नैतिक जिम्मेदार है तथा इस जिम्मेदारी का पालन भी हमारा धर्म है। मां निह्स्वार्थ भाव से अपने बच्चो की सेवा मे अपना जीवन समर्पित करती है उसका यह एहसान हमारे लिए अमूल्य है। वैसे भी मां के द्वारा किये गये कर्मो का हिसाब तो हम नही कर सकते परंतु अपने हिस्से की खुशी देकर उनके चेहरे पर मुस्कुराहट तो जरूर दे सकते है।

See also  My Father Essay in Hindi - पिता पर निबंध

मातृ दिवस कैसे मनाये?

आप मातृ दिवस के दिन अपनी मां को ढेर सारी खुशिया देकर उन्हे खुशी दे सकते है। मां हमेशा अपने बच्चो से कोई चीज़ की उम्मीद नही करती है। बस उसे प्यार की उम्मीद रहती है। इस दिन आप मां के लिए पूरा समय निकाले तथा उनके साथ बचपन के वो सारे पल के बारे मे बात करे जो उन्हे बहुत पसंद है। मातृ दिवस के दिन आप वही काम करे जो मां को बहुत पसंद है, उन्हे कही अच्छी जगह घुमाने ले जाये तथा उनका सबसे प्यारा उपहार उनके लिए लेकर आये। अगर आप घर पर नही है कही बाहर है तो इस दिन आप मातृ दिवस कोट्स के जरिये भी मां को प्यारा सा संदेश भेजकर उनको अपना प्यार और सम्मान दे सकते है। आप कितने भी व्यस्त रहे लेकिन इस दिन मां के लिए समय जरूर निकाले। धन्यवाद

आप सभी दोस्तो को मातृ दिवस की हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं!